Blog seo

Seo Kya Hai :- सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन क्या है

seo kya hai

एसईओ या सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन एक ऐसा तरीका है जिसके माध्यम से हम Google सर्च इंजन की पहली सूची में एक वेबसाइट को रैंक करने का प्रयास करते हैं। परिणामस्वरूप, वेबसाइटों और ब्लॉगों पर आवागमन में वृद्धि हुई है। हम इसे बिक्री या व्यवसाय में बदल सकते हैं। Keyword research SEO में बहुत महत्वपूर्ण है। कौन सा खोज को कम करने के लिए कीवर्ड के साथ-साथ उपयोग किया जाता है वे जल्दी से रैंक कीवर्ड Google करने में सक्षम हैं मुश्किल कम कर दिया।

seo ke types ( सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के प्रकार)

Seo का प्रकार इस प्रकार है। पेज एसईओ पर, ऑफ पेज एसईओ और तकनीकी एसईओ। इन तीन विधियों की अपनी-अपनी भूमिकाएँ हैं।

On Page Seo Kya Hai

यह एक अनुकूलन दृष्टिकोण है। जिसमें हम सर्च इंजन की गाइडलाइन के अनुसार कंटेंट, हेडिंग टैग्स, मेटा टाइटल, मेटा डिस्क्रिप्शन, मेटा कीवर्ड्स, 404 एरर पेज, कैनोनिकल टैग, रोबोट्सटैक्स आदि की व्यवस्था करते हैं।

On Page Seo Kaise Kare

पेज पर करने के लिए आप SEO टूल्स Ahrefs, Moz, Semrush, google सर्च कंसोल, गूगल एनालिटिक्स, गूगल पेज स्पीड आदि का उपयोग कर सकते हैं।

Seo –  seo in hindi के बारे में विस्तार से पढ़ने के लिए

Off Page Seo Kya Hai

लिंक बिल्डिंग ऑफ-पेज एसईओ है। मतलब बैकलिंक्स बनाना। यह बहुत महत्वपूर्ण तकनीक है। रैंकिंग वेबसाइटों में ऑफ-पेज का बहुत उपयोग होता है।

Off Page Seo Kaise Kare

आर्टिकल सबमिशन, गेस्ट पोस्टिंग, वेब 2.0, इमेज सबमिशन, सोशल बुकमार्किंग, प्रोफाइल क्रिएशन, प्रेस रिलीज आदि ऑफ-पेज SEO के तरीके हैं।

Technical Seo Kya Hota Hai

टेक्निकल SEO का मतलब है वेबसाइट की सेहत की जाँच करना। वेबसाइट पेज स्पीड, इंडेक्सिंग, एचटीएमएल एरर्स, वेबसाइट रिस्पांस, मोबाइल फ्रेंडली टेस्ट आदि तकनीकी एसईओ का हिस्सा हैं।

Technical Seo Kaise Kare

आप AhrefsMoz , Semrush, google पेज स्पीड टूल्स जैसे वेबसाइट ऑडिट टूल का उपयोग कर सकते हैं  अगर आप वेबसाइट डेवलपर नहीं हैं तब भी कोई समस्या नहीं है। ये उपकरण आपको सरल तरीके से त्रुटियों और सुझाव को दिखाएंगे।

White Hat Seo Kya Hai

व्हाइट हैट एसईओ एक ऐसी तकनीक है। जिसमें हम backlinks बनाते समय Google के दिशा-निर्देशों का पालन करते हैं। यदि हम Google दिशानिर्देश का पालन नहीं करते हैं, तो Google हमारी वेबसाइट के SERP (खोज इंजन परिणाम पृष्ठ) रैंक को कम कर सकता है। या वेबसाइट डिंडेक्स, पेनल्टी भी लागू हो सकती है।

Black hat seo kya hai

Black hat SEO तकनीक में लिंक बनाते समय Google के दिशानिर्देशों का पालन न करें। इसका उद्देश्य वेबसाइट के कीवर्ड को कम समय में रैंक करना है। लेकिन यह लंबे समय के लिए अच्छा नहीं है। क्योंकि Google को बेवकूफ बनाना बहुत मुश्किल है। इसका एल्गोरिदम केवल स्पैम का पता लगाता है। ब्लैक हैट एसईओ उदाहरण पीबीएन (निजी ब्लॉग नेटवर्क), कीवर्ड स्टफिंग, छुपा पाठ, अतिरिक्त रीडायरेक्शन आदि हैं।

7 Comments
  1. generic kidney medicine 4 महीना ago
    Reply

    As a Newbie, I am continuously exploring online for articles that can be of assistance to me. Thank you

  2. sikis 6 महीना ago
    Reply

    I was reading some of your blog posts on this website and I believe this site is real informative! Continue putting up. Alecia Darwin Tarrah

  3. bahis 6 महीना ago
    Reply

    This paragraph offers clear idea designed for the new visitors of blogging, that actually how to do blogging. Bessy Rollo Pretrice

  4. erotik 6 महीना ago
    Reply

    Hi there friends, its impressive piece of writing concerning cultureand fully defined, keep it up all the time. Cassandra Charley Dolphin

  5. porno 6 महीना ago
    Reply

    Helpful information. Lucky me I found your site accidentally, and I’m stunned why this twist of fate didn’t happened in advance! I bookmarked it. Mandi Tabbie Mickie

  6. john wick 6 महीना ago
    Reply

    Really appreciate you sharing this article post. Want more.

  7. RISHABH KAUSHIK 7 महीना ago
    Reply

    Nice content…..

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like