Education

Mobile Phone Ke Fayde Aur Nuksan : मोबाइल फोन के फायदे और नुकसान

Mobile Phone Ke Fayde Aur Nuksan - in Hindi

आज हम मोबाइल फोन पर  निबंध लिखेंगे। यह एक बहुत ही चर्चा का विषय बन गया है कि मोबाइल फोन मनुष्य आदि के लिए लाभकारी  है अथवा हानिकारक हैं। पिछले कुछ वर्षो से मोबाइल के उपयोग में तीव्र वृद्धि देखने को मिली हैं। लेकिन इसके दुष्परिणाम भी सामने आये हैं। मोबाइल टेक्नोलॉजी का अधिक प्रयोग एक चिंता का विषय बन गया हैं। इसने मनुष्य के जीवन को लाभकारी बनाने के साथ ही विनाशकारी भी बना दिया हैं।

मोबाइल फोन के फायदो मे -जीवन की मूलभूत आवश्यकताएँ, जिसमें दूर स्थित मनुष्य से साधारण एवं वि़डियो कॉल के माध्यमस से बातचीत कर के समस्या का निवारण करना। अन्य फायदे इंटरनेट के द्वारा घर बैठे जरूरती सेवाएं सरलता से पा लेना, साथ ही परिवार व मित्रजनो के सुख-दुख की स्थिति का समय पर पूछताछ करना। मोबाइल के नुकसानो में– समय की बर्बादी एवं नकारात्मक विषय देखकर मानसिक तनाव का शिकार हो जाना ही इसके सबसे गम्भीर नुकसान हैं।

अब, Mobile Phone Ke Fayde Aur Nuksan को महत्वपूर्ण बिन्दुओ के रूप में नीचे क्रम से समझाया गया हैं। पहले फायदे बताये गये हैं, फिर नुकसान समाझाये गये हैं।   

Mobile Phone Ke Fayde (मोबाइल फोन के फायदे)

मोबाइल फोन के फायदे इस प्रकार हैं-

  • समय की बचत होना।
  • पैसे की बचत होना।
  • इंटरनेट के माध्यम से तुरंत जानकारी मिलना।
  • वीडियो, चित्रो व ऑडियो को लम्बे समय तक सुरक्षित रखना।
  • ऑनलाइन परीक्षा की उपलबद्धता ।
  • ऑनलाइन शिक्षा की व्यवस्था ।
  • आवश्यकता होने पर पुलिस, एम्बुलेंस, फायर बिग्रेड आदि को तुरंत सूचित व सहायता प्राप्त करना।
  • ऑनलाइन मार्केटिंग करना।
  • ई बिजनेस करना।
  • इलेक्ट्रॉनिक बैंकिंग सुविधा।
  • डॉक्यूमेंट स्कैन करना।
  • लर्निंग एप व एंड्रॉयड ऐप्स के माध्यम से जरुरी सुविधाओं का प्रयोग करना।
  • ईमेल के माध्यम से संदेश भेजना व प्राप्त करना।
  • गवर्नमेंट नई स्कीम की जानकारी प्राप्त करना।
  • सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी बात सरकार व अन्य लोगो तक पहुँचाना।
  • यूट्यूब चैनल बनाकर ऑनलाइन रोजगार प्राप्त करना।
  • विडियो चैट शेयर के माध्यम से मीटिंग करना।
  • आपदा के समय संचार व्यवस्था का साधन बनाना।

मोबाइल फोन के नुकसान यहाँ नीचे लिखे गये हैं।

Mobile Phone Ke Nuksan (मोबाइल फोन के नुकसान)

ये सब मोबाइल फोन के नुकसान हैं-

  • मस्तिष्क को गुलाम बना लेना।
  • आँखों की समस्या पैदा करना।
  • गर्दन व रीड़ की हड़्डी का आगे की ओर झुक जाना।
  • हाथो, सिर, गले की मांसपेशियों में जकड़न होना।
  • परिवार, सम्बन्दधी व मित्र आदि से संमबन्दधो में दूरी पैदा हो जाना
  • सोशल मीडिया व गेम्स की लत लग जाना। 
  • फालतू की चीजें देखकर महत्वपूर्ण समय का नाश करना।
  • इंटरनेट पर झूठी अफवाह लोगों को दिखाकर उनके विचारों में परिवर्तन करना।
  •  इंटरनेट के माध्यम से व्यक्तियों को गलत जानकारी उपलब्ध कराना।
  • सिरदर्द की समस्या उत्पन्न होना।
  • बच्चो की पढाई की तरफ से ध्यान हटाना जिस कारण विद्या का नुकसान होना।
  • युवाओं द्वारा मोबाइल पर इंटरनेट के माध्यम से गंदी व अश्लील सामग्री को देखना।
  • लम्बे समय तक एक स्थान व एक ही शारीरिक स्थिति में रहने से शरीर में विकार पैदा होना।
  • आलसी बन जाना।
  • चिड़चिड़ापन की समस्या होना।
  • रात को देर से सोना।
  • मोबाइल एवं मोबाइल टावर से निकलने वाली रेडिएशन से जीवों व वातावरण को नुकसान पहुँचना।

यह भी पढ़े – इंटरनेट के लाभ और हानि

Mobile Phone Ke Labh Aur Hani – निष्कर्ष

Mobile Phone Ke Labh Aur Hani इस प्रकार है– इस बात को झुठलाया नहीं जा सकता है। कि मनुष्य द्वारा निर्मित किसी भी वस्तु से पूर्णतः लाभ प्राप्त नहीं किये जा सकते हैं। मनुष्य ने जो कुछ भी बनाया हैं अथवा आविष्कार किया है उन सभी के गंभीर नुकसान  हमे भोगने पड़े हैं।

मोबाइल के जितने फायदे हैं उससे ज्यादा इसके नुकसान हैं। आज मोबाइल ने मानव को अपना गुलाम बनाकर रख दिया हैं। लगभग सभी लोग दिन रात मोबाइल में घुसे रहते हैं। उनके मस्तिष्क को ऐसी आदत पड़ गई हैं कि अगर मोबाइल व इंटरनेट ना हो तो वे पागल ही हो जाये। मोबाइल व टावर से निकलने वाली भयंकर रेडिएशन पशु पक्षियों, मानव शरीर  व अन्य को प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से नुकसान पहुंचा रहे हैं।

मोबाइल ने हमारे जीवन के कुछ हिस्सों व कार्यों को सरल अवश्य बनाया है। हम घर बैठे दूर देश विदेश का हाल जान सकते हैं, बात कर सकते हैं। घर बैठे ही ऑनलाइन सेवाएं जैसे बैंकिंग, स्वास्थ्य, रोजगार, शिक्षा की सुविधा प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन मोबाइल फोन ने आज मानव को मानसिक, शारीरिक रूप से जकड़ लिया हैं।

आज बच्चे से लेकर बड़े तक मोबाइल मे ज्यादा समय देना पसंद करते हैं। जिस कारण वे जीवन की अन्य महत्वपूर्ण क्रियाओं में भाग नहीं ले पाते हैं। मोबाइल के माध्यम से ही खाना बुकिंग, वस्त्र बुकिंग, आदि कर रहे हैं, जिस कारण मनुष्य का शरीर आलसी होता जा रहा हैं। बच्चों ने खुले स्थान पर खेल-कूद करना कम कर दिया हैं। ऑनलाइन गेम खेलना अधिक पसंद करते हैं। जिस कारण उनका शारीरिक विकास अवरुद्ध होता जा रहा हैं। 

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like

post-image
Business

Zero Investment Business in Hindi: Online Offline Ideas – 2021

  1.साक्षात्कारकर्ता(Interviewer) बनकर साक्षात्कारकर्ता जीरो इन्वेस्टमेंट वाला बिजनेस है। लोग सफल व्यक्तियों का इंटरव्यू देखना पसंद करते है। इस...