Education

Disadvantages of Mobile Phones in Hindi | मोबाइल फोन के Top 15 नुकसान, Nibandh

Mobile Phone Ke Nuksan in Hindi

यह पोस्ट मोबाइल फोन के नुकसान पर निबंध(Nibandh)  को प्रस्तुत करने के रूप में लिखा गया है।

सबसे अधिक प्रयोग किये जाने वाले तकनीकी यंत्रों में  से मोबाइल फोन एक ऐसी तकनीक है, जो लगभग दुनिया के प्रत्येक व्यक्ति के घर में प्रयोग की जाती है। स्मार्टफोन अथवा मोबाइल फोन जीवन की जरूरत बन गया है। घर बैठे- शॉपिंग, बैंकिंग, पढाई, हेल्थ, बिजनेस, रोजगार, भोजन पदार्थ, मनोरंजन, आदि इंटरनेट व मोबाईल फोन के माध्यम से घर पर ही अति शीघ्र उपलब्ध हो जाता है। 

 

लेकिन बच्चों, युवाओं एवं बुजुर्गों पर मोबाइल फोन के नकारात्मक प्रभाव बड़े स्तर पर प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष रूप से होते है। मोबाइल फोन के इन नकारात्मक प्रभावों से जीवन की रक्षा करना एक बड़ी चुनौती बनता जा रहा है।

 

Mobile Phone Ke Nuksan
Mobile Phone Ke Nuksan

Disadvantages of Mobile Phone(मोबाइल फोन के नुकसान) – 

 Mobile phone ke disadvantages-

1- मूल्यवान समय का नाश करता है:
इंटरनेट पर उपलब्ध व्यर्थ के विषयों को देखने के कारण, यह मूल्यवान समय को नष्ट करने में सहायक है।

2- मस्तिष्क शांति को भंग करता है:
विभिन्न प्रकार के नकारात्मक चित्रण, वीडियो, पोस्ट, वेबसाइट, गेम्स व अन्य मनोरंजक सामग्री का उपयोग करने से मानव के मस्तिष्क, चिंतन शक्ति और शांति को भंग करता है।

3- बच्चों के परीक्षाफल में हानि पहुँचाता है:
विद्यार्थियों द्वारा अधिक समय मनोरंजन सामग्री, सोशल मीडिया, चैटिंग एप्स, ऑनलाइन गेम्स, अभद्र चल-चित्र देखने के कारण उनका शिक्षा की तरफ से ध्यान कम हो जाता है जिस कारण पढ़ाई गंभीर रूप से प्रभावित हो जाती है। परीक्षा फल परिणाम  में कम अंक अथवा असफलता(failure) प्राप्त होती हैं।

4- फोन उपयोग की लत लगाता है:
लम्बे समय तक मोबाइल फोन का प्रयोग करने से मनुष्य के मस्तिष्क व शरीर को फोन की लत लग जाती है। फिर यह आदत में बदल जाती है। जब व्यक्ति को मोबाइल फोन प्रयोग करने के लिए नहीं मिलता तो उसका मस्तिष्क पागल की तरह व्यवहार करने लगता है। वह विचलित और चिड़चिड़ा महसूस करने लगता है। 

5- आँखों की दृष्टि में कमी:
मोबाईल स्क्रीन से निकलने वाले प्रकाश के कारण आँखों की देखने की क्षमता में कमी हो सकती है। जिससे छोटे अक्षर पढ़ने में कठिनाई होती है।

6- स्मरण और चिंतन शक्ति को कम करता है:
किसी भी प्रकार की जानकारी का उत्तर पाने के लिए लोग उसे इंटरनेट पर सर्च करते है। अन्य प्रकार की पुरानी तकनीक, पुस्तक अथवा सुविधा का प्रयोग करना पसंद नहीं करते। परिणाम यह हो गया है कि फोन ने व्यक्तियों की स्मरण व चिंतन शक्ति को कम कर दिया है। जिससे उनकी स्मरण शक्ति में बड़े स्तर पर गिरावट आई है।

7- काल्पनिक सोच में वृद्धि:
ज्यादा मोबाइल प्रयोग से व्यक्ति दिन रात काल्पनिक सपने सोचते रहता है। 

8- परम्परागत हस्तलिपि/ हैंडराइटिंग खराब हो जाती है:
सभी प्रकार की ऑफलाइन व ऑनलाइन जानकारियों को मोबाइल फोन पर सॉफ्ट कॉपी में सुरक्षित एवं शेयर करने के कारण,  कागज-पेन एवं पेंसिल का प्रयोग कम होने से लोगो की परम्परागत हस्तलिपि या हैंडराइटिंग खराब हो गई है। साथ ही लेखन अभ्यास भी छूट गया है। जिस कारण शब्द और वाक्य को लिखते समय व्याकरण  एवं शाब्दिक त्रुटियाँ अधिक मात्रा में होने लगती है।

9- बच्चों को ऑनलाइन गेम्स से क्षति देता है:
मोबाइल फोन पर ऑनलाइन गेम्स में बच्चों को दिए गये खतरनाक लक्ष्य को पूर्ण न करने पर, कुछ बच्चे मानसिक दबाव, बहकावे व लालच में आकर अपने अथवा दूसरे व्यक्तियों को नुकसान पहुंचाते है। इसके अलावा कुछ बच्चे तो आत्मघात जैसी दुर्घटना के शिकार हो जाते है।

Read More – Internet Ke Labh Aur Hani

10- मस्तिष्क में नकारात्मक का उदय:
मोबाइल पर उपस्थित सामग्री से मन में विभिन्न प्रकार के बुरे विचार, नकारात्मक ख्यालो में वृद्धि होती है।

 

11- ऑनलाइन शिक्षा के बहाने मनोरंजन कंटेंट देखना:
नूतन(present) समय में ऑनलाइन शिक्षा का चलन है। इसके माध्यम से घर बैठे ही रात्रि अथवा दिन में किसी भी समय इंटरनेट, मोबाइल और डेस्कटॉप की सहायता से पढ़ाई करते हैं। लेकिन छात्र ऑनलाइन शिक्षा प्लेटफार्म पर पूर्ण रूप से ध्यान ना देकर, सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट का प्रयोग एवं मनोरंजन विडियो कंटेंट पर ज्यादा समय नष्ट करते हैं। इसी कारण शिक्षकों व अभिभावकों को  ऑनलाइन शिक्षा के नुकसान के विषय का पर चर्चा करना अति आवश्यक हो गया है।

12- चिड़चिड़ापन, गुस्सा व आलस्य:
अधिक मोबाइल प्रयोग के कारण मनुष्य के स्वभाव में चिड़चिड़ापन और गुस्सा आता है। साथ ही मानसिक एवं शारीरिक स्तर पर आलस्य महसूस होने से किसी भी कार्य में रुचि नहीं होती।

13- ऑनलाइन भ्रामक जानकारी का शिकार हो जाना:
लोग इंटरनेट का प्रयोग करते समय कुछ अविश्वसनीय एवं असत्य भ्रमिक जानकारी को सत्य मान कर उन पर विश्वास कर लेते है। फलस्वरूप शारीरिक, मानसिक, रोजगार, बिजनेस, आदि अन्य किसी भी वस्तु, विषय अथवा क्षेत्र में इस गलत जानकारी के कारण नुकसान झेलते है।

Read More- Social Media Ke Fayde Aur Nuksan

14- समय व शारीरिक ऊर्जा का क्षय:

दिन रात घर अथवा घर के बाहर किसी भी स्थान पर-  भोजन करते समय, टीवी देखते समय, पढ़ाई करते समय, मित्रों से बात करते समय आदि परिस्थितियों में मोबाइल प्रयोग से कोई भी कार्य पूर्ण रूप से सम्पन्न नही हो पाता। फलस्वरूप समय एवं शारीरिक ऊर्जा का ह्रास होता है।

15- फ्रस्टेशन से संबंधियों के साथ कलह:

नियमित रूप से अधिक समय तक मोबाइल फोन का प्रयोग करने से मन में फ्रस्टेशन बढ़ने लगती है। जिससे मानसिक अशांति होती है। फलस्वरूप परिवार, मित्रों और सगे संबंधियों के साथ व्यक्ति व्यवहार सही नहीं होने से यह कलह में परिवर्तित हो जाता है।

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like